रामलला के वकील का दावा- बाबरी के नीचे मौजूद है मंदिर का ढांचा

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर सुप्रीमकोर्ट(Supreme Court)में सुनवाई के दौरान रामलला के वकील ने कहा कि वहां खुदाई से निकले अवशेषों से यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि वहां मंदिर था.

नई दिल्ली.  राम जन्मभूमि – बाबरी मस्जिद भूमि विवाद (Ram Janmbhoomi-Babri Masjid Land Dispute) के मामले में गुरुवार को 36वें दिन की सुनवाई की गई.

रामलला के वकील सीएस वैद्यनाथन ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से कहा कि

अयोध्या में ध्वस्त की गई बाबरी मस्जिद के नीचे ‘विशाल संरचना’ की मौजूदगी के बारे में साक्ष्य संदेह से परे हैं.

उन्होंने कहा कि वहां खुदाई से निकले अवशेषों से यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि वहां मंदिर था.

‘अवशेषों से पता चलता है वहां मंदिर था’

उन्होंने कहा, ‘यह किसी भी संदेह से परे साक्ष्य है कि इसके नीचे एक संरचना थी.’वैद्यनाथन ने कहा कि हिन्दू पक्षकारों का यही मामला है

कि खुदाई में मिले अवशेषों, घेराकार मंदिर , स्तंभों के आधार, एक दूसरे से मिलती दीवारें और अन्य सामग्री, से यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि वहां एक मंदिर था.

Please follow and like us:
error0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *